भारत के लिए वरदान साबित हुआ Asia Cup 2023, विश्व कप के लिए ज्यादा मजबूत दिख रही है टीम.. – दैनिक जागरण (Dainik Jagran)

कोलंबो गत चैंपियन श्रीलंका को हराकर रिकॉर्ड आठवीं बार ट्रॉफी जीतने वाली भारतीय टीम के लिए एशिया कप 2023 वरदान साबित हुआ। तीन सप्ताह पहले जब रोहित शर्मा की कप्तानी वाली भारतीय टीम एशिया कप खेलने श्रीलंका पहुंची थी तो काफी असहज नजर आ रही थी। जसप्रीत बुमराह चोट से उबरने के बाद वनडे प्रारूप में वापसी कर रहे थे।
नई दिल्ली, अभिषेक त्रिपाठी। कोलंबो गत चैंपियन श्रीलंका को हराकर रिकॉर्ड आठवीं बार ट्रॉफी जीतने वाली भारतीय टीम के लिए एशिया कप वरदान साबित हुआ। तीन सप्ताह पहले जब रोहित शर्मा की कप्तानी वाली भारतीय टीम एशिया कप खेलने श्रीलंका पहुंची थी तो काफी असहज नजर आ रही थी।

जसप्रीत बुमराह चोट से उबरने के बाद वनडे प्रारूप में वापसी कर रहे थे। श्रेयस अय्यर और केएल राहुल के साथ भी यह समस्या थी और दोनों को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं थी। चौथे नंबर पर कौन बल्लेबाजी करेगा, कौन अंतिम एकादश में जगह बनाएगा, किसे बाहर रखा जाएगा तय नहीं था।

Asia Cup 2023 का खिताब जीतकर टीम इंडिया का बढ़ा आत्मविश्वास

कुल मिलाकर इस टूर्नामेंट से पहले कोच राहुल द्रविड़ और कप्तान रोहित शर्मा को कई प्रश्नों का जवाब तलाशना था। पूरा टूर्नामेंट वर्षा से प्रभावित रहा। पाकिस्तान के विरुद्ध ग्रुप चरण में भारतीय बल्लेबाजों ने घुटने टेक दिए। नेपाल के विरुद्ध गेंदबाज प्रभावित नहीं कर सके।

जो नेपाल की टीम पाकिस्तान के विरुद्ध 20 ओवर भी बल्लेबाजी नहीं कर पाई थी, उसके बल्लेबाज भारतीय गेंदबाजी आक्रमण के विरुद्ध 49 ओवर तक बल्लेबाजी करने में सफल रहे थे। बांग्लादेश के विरुद्ध टीम हार गई, लेकिन उस मैच में विराट, बुमराह समेत पांच खिलाड़ियों को आराम दिया गया था।

जो भारतीय टीम टूर्नामेंट से पहले असहज दिखाई दे रही थी, टूर्नामेंट खत्म होते होते वह सबसे संतुलित टीम दिखाई दे रही है। वहीं एशिया कप से पहले जिस पाकिस्तानी टीम को सबसे बेहतर आंका गया था, टूर्नामेंट के बाद वह एक साधारण टीम बनकर उभरी।

World Cup के लिए पूरी तैयार नजर आ रही है टीम इंडिया

श्रीलंका से विदाई लेने के बाद रोहित की सेना विश्व कप (World Cup 2023) की चुनौती के लिए पूरी तरह तैयार नजर आ रही है। टीम के मध्यक्रम में अब अधिक स्पष्टता है। उसके पास हर परिस्थिति में अच्छा प्रदर्शन करने वाले गेंदबाज भी उपलब्ध हैं। केएल राहुल की वापसी और इशान किशन की बल्लेबाजी ने मध्यक्रम की चिंताओं को काफी हद तक कम कर दिया है।
चौथे नंबर पर केएल राहुल ने अपनी बल्लेबाजी से प्रभावित किया और पाकिस्तान के विरुद्ध शतक जड़ चौथे नंबर के लिए अपना दावा मजबूत किया है। केएल के प्रदर्शन से टीम प्रबंधन भी खुश है क्योंकि जितने भी मैच वे खेले उसमें उन्होंने बल्लेबाजी के साथ विकेट के पीछे भी अच्छा खेल दिखाया। राहुल ने तेज गेंदबाजी पर डाइव लगाते हुए कैच लपके, जबकि स्पिनर कुलदीप यादव के सामने उनकी विकेटकीपिंग प्रभावशाली थी।
यह भी पढ़ें:
India Squad For ODI Series: AUS के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम का एलान, R Ashwin की हुई वापसी

अय्यर नहीं तो ईशान किशन

श्रेयस अय्यर की चोट को लेकर भारतीय टीम अब ज्यादा चिंतित नहीं है क्योंकि अब उनके पास मध्यक्रम में ईशान के रूप में बेहतर विकल्प उपलब्ध है। हालांकि रोहित ने बताया है कि अय्यर जल्द फिट हो जाएंगे। पाकिस्तान के विरुद्ध ग्रुप चरण मुकाबले में इशान ने पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी की और अर्धशतक जड़ टीम की आशाओं पर खरा उतरे।

गेंदबाज रहे असरदार

एशिया कप (Asia Cup 2023) में खिताबी जीत के दौरान गेंदबाजों का प्रदर्शन प्रभावशाली रहा। उन्होंने अधिक महत्वपूर्ण मैचों में बेहतर प्रदर्शन किया, जिसमें पाकिस्तान के विरुद्ध सुपर-4 चरण का मुकाबला और श्रीलंका के विरुद्ध फाइनल भी शामिल है। कुलदीप ने सीरीज में नौ विकेट लिए और उन्हें टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया।
कुलदीप की फार्म ने भारतीय गेंदबाजी को एक नया आयाम दिया है। विश्व कप में ये गेंदबाज टीम के लिए एक्स फैक्टर साबित हो सकता है। भारत लगभग एक साल में जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद सिराज और हार्दिक पांड्या की तिकड़ी को पहली बार एक साथ उतारने में सफल रहा और इसका शानदार नतीजा मिला।
पीठ की चोट के कारण बाहर बुमराह जुलाई 2022 के बाद पहली बार वनडे मैच खेलते हुए दिखाई दिए। तीसरे तेज गेंदबाज के रूप में हार्दिक ने भी प्रभावित किया। बल्लेबाजी में गहराई लाने के लिए टीम प्रबंधन को मोहम्मद शमी को बाहर बैठाने का मुश्किल फैसला करना पड़ा।
अब भारत पांच अक्टूबर से शुरू हो रहे वनडे विश्व कप में एक संतुलित टीम के साथ उतरेगा, जो भारत के लिए तीसरा वैश्विक खिताब जिताने के लिए सबसे महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है।
एशिया कप से क्या मिला-

  • भारतीय टीम लगभग तय हो गई है।
  • केएल राहुल ने विश्व कप से पहले फार्म पा ली।
  • कुलदीप का आत्मविश्वास बढ़ा हुआ दिख रहा।
  • बुमराह ने लय पकड़ ली। सिराज भी फार्म में हैं।
  • रोहित को रन बनाने होंगे। कोहली टच के दिख रहे।
  • अक्षर की चोट से अश्विन या वाशिंगटन को मौका मिल सकता है। इससे टीम में ऑफ स्पिनर की कमी पूरी हो जाएगी।

source

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
Join Whatsapp Group!
Scan the code